योगा करना सही है या गलत, वैज्ञानिक तथ्यों के आधार पर जाने योग के फ़ायदे और नुकसान

Yoga in Hindi | आर्टिकल शुरू करने से पहले हम आपको बता दें की योगा न तो कोई धर्म है और न ही किसी धर्म विशेष से कोई सम्बन्ध रखता है! यह तो निरोगी काया पाने का एक बहुमूल्य विकल्प है जिसे कोई भी अपने जीवन का हिस्सा बना सकता है!

Benefit of Yoga In Hindi | Disadvantage of Yoga in Hindi | History of Yoga in Hindi

एसा बिल्कुल भी नहीं है की योगा केवल किसी एक धर्म से सम्बन्ध रखने वाले लोगो को ही लाभ पहुचाता है! यह तो दुनियाभर में प्रचलित विभिन्न व्यायाम क्रियाओं का ही एक रूप है जिसका नियमित रूप से अभ्यास आपके शरीर को स्वस्थ और सुन्दर बनाने के साथ साथ आत्मिक सुख भी प्रदान करता है! फिर चाहे आप लड़का हो या लड़की, बच्चे हो या वृद्ध या किसी भी धर्म को मानने वाले हो| तो अगर योगा को लेकर आपके मन में कोई भी गलत धारणा है तो कृपा कर के उसे अपने मन से निकाल दें|

Yoga in Hindi

Yoga in Hindi

योग का इतिहास | History of Yoga in Hindi:

भारतीय योग जानकारों के अनुसार लगभग 5000 वर्ष पूर्व भारत में योग की उत्पत्ति हो चुकी थी! गुरु-शिष्य परंपरा के द्वारा योग का ज्ञान पीढ़ी दर पीढ़ी एक-दूसरे को मिलता रहा!

योग के इतिहास की सबसे आश्चर्यजनक खोज सन 1920 के शुरुआत में हुई! 1920 में पुरातत्व वैज्ञानिकों ने सिंधु-सरस्वती सभ्यता की खोज की थी! इस खोज में योग की प्राचीन परंपरा होने के सबूत मिले थे|

लम्बे समय से भारतीय लोगों में योग के बढ़ते हुए प्रचालन को देखते हुए 21 जून को योग दिवस के रूप में घोषित किया जा चूका है|

योग के जानकारों के अनुसार अगर आप नियमित रूप से योगाभ्यास करते हैं तो आपको कई तरह की शारीरिक और मानसिक परेशानियों से छुटकारा मिल सकता है!

दुनियाभर के लोग कई कारणों से  योगाभ्यास करना पसंद करते हैं जैसे कि प्राकृतिक रूप से वजन कम करना, मज़बूत एवं लचीला शरीर, सुन्दर व चमकदार त्वचा और मन की शांति|

हम लोगों ने अभी तक जहां भी देखा या पढ़ा हर जगह योग से होने वाले फायदों को ही गिनाया जाता है| क्या ऐसा हो सकता है की योग के कोई भी दुष्प्रभाव ना हो| अगर आप ऐसा सोचते हैं तो आप बिल्कुल गलत है|

पिछले कुछ वर्षों में अलग-अलग देशों में योग करने वाले लोगों पर किए गए परीक्षण एवं सर्वे से कई चौका देने वाले परिणाम सामने आए हैं| इसलिए यह कहना बिल्कुल गलत होगा कि योग के सिर्फ फायदे ही फायदे हैं और दुष्प्रभाव  कुछ भी नहीं है|

इस आर्टिकल में हम आपको योग से होने वाले फायदे और साथ ही साथ योग से होने वाले दुष्प्रभाव के बारे में विस्तार से बताएंगे!  तो आइए सबसे पहले जानते हैं

योग से होने वाले फायदे | Benefit of Yoga in Hindi:

1. वजन घटना | Benefit of Yoga in Hindi:

जी हां! योग से होने वाले फायदों में जो सबसे ऊपर है वह है वजन का कम होना! सूर्य नमस्कार और कपालभारती जैसी योग-क्रियाएं आपके शरीर की अतिरिक्त चर्बी को कम कर वजन घटाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है! प्रतिदिन योगाभ्यास करने से हम हमारे शरीर को लेकर काफी संवेदनशील हो जाते हैं और इस को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी उपाय करना शुरू कर देते हैं जैसे की खान-पान पर नियंत्रण व सुबह शाम भ्रमण आदि|

2. रोग प्रतिरोधक शक्ति का बढ़ना | Benefit of Yoga in Hindi:

नियमित योग का अनुसरण हमें हमारे शरीर मस्तिष्क और आत्मा पर नियंत्रण करने में सहायता प्रदान करता है| अगर हमारा शरीर स्वस्थ ना हो तो हमारा मस्तिष्क भी सही से कार्य नहीं करता और अगर मन विचलित हो तो शरीर  अपने आप ही बीमार महसूस करता है रोजाना योगाभ्यास हमारे शरीर की मांसपेशियों व फेफड़ों को मजबूत करता है जिसके फलस्वरुप हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता उच्च स्तर पर बनी रहती है!

3. मानसिक तनाव में कमी | Benefit of Yoga in Hindi:

योगाभ्यास के दौरान स्वच्छ वायु जब फेफड़ों में प्रवेश करती है तो  वायु में उपस्थित  प्राकृतिक ऑक्सीजन सीधा हमारे रक्त में घुल जाती है और जब यह ऑक्सीजन युक्त रक्त हमारे मस्तिष्क तक पहुंचता है तो शरीर की नसों में एक नई उर्जा उत्पन्न करता है जो मानसिक तनाव को कम करने में सहायक है! मानसिक तनाव को कम करने के लिए ध्यान लगाना और प्राणायाम जैसी क्रियाएं प्रमुख है!

4. आत्मिक सुख | Benefit of Yoga in Hindi:

हम सभी ऐसी जगहों पर घूमना पसंद करते हैं जहां प्राकृतिक सुंदरता के साथ साथ आसपास के वातावरण में शांति हो  ऐसा हम रोजमर्रा के कार्यों से हटकर अपने आत्मिक सुख के लिए करते हैं| प्रतिदिन योगाभ्यास हमें इसी प्रकार का आत्मिक सुख प्रदान करता है|

5. दिमाग की स्थिरता | Benefit of Yoga in Hindi:

मनुष्य का दिमाग हमेशा व्यस्त रहता है कभी वह अतीत के रहस्य में खोया रहता है तो कभी भविष्य में नई-नई संभावनाएं तलाश करता रहता है और वर्तमान में हम जिस स्थिति में हैं उस स्थिति में बहुत ही कम समय के लिए रहता है मानव मस्तिष्क की भविष्य और अतीत में जाने की यह क्रियाएं लगातार चलती रहती है! मस्तिष्क की इन क्रियाओं के कारण है तनाव व काम में मन न लगना  जैसी परेशानियां सामने आ सकती हैं|  अगर मनुष्य इन क्रियाओं को भली-भांति पहचान लें व इन पर नियंत्रण कर लें तो मस्तिष्क को वर्तमान काल में  स्थिर किया जा सकता है!  इस कार्य के लिए प्राणायाम और ध्यान लगाने जैसी योग क्रियाएं विश्व विख्यात है!

6. रिश्तो की मजबूती | Benefit of Yoga in Hindi:

नियमित रूप से योगाभ्यास आपके और आपके साथी के बीच रिश्ते को मजबूत करता है एक स्वस्थ शरीर, स्थिर मन और तनाव मुक्त दिमाग रिश्तो को सहेज कर चलने के लिए अति आवश्यक है स्वस्थ शरीर पाने और मस्तिष्क को तनाव मुक्त रखने के लिए नियमित रूप से योग अवश्य करें

7. हृदय रोग से सुरक्षा | Benefit of Yoga in Hindi:

साल 2015 में किए गए शोध के अनुसार यह  पता लगाया गया की हृदय संबंधी बीमारियों को कम करने के लिए नियमित रूप से योगाभ्यास अन्य व्यायाम की तुलना में  अधिक कारगर है!  शोध में यह पाया गया कि योगाभ्यास आपके शरीर के रक्त दबाव को 5 पॉइंट तक कम कर सकता है साथ ही साथ कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी मदद करता है!

8. अनिंद्रा से मुक्ति | Benefit of Yoga in Hindi:

सोने से पहले योगाभ्यास अनिद्रा जैसी बीमारियों को खत्म कर सकती है!  आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी  के चलते अनिद्रा जैसी समस्याओं का होना आम बात है! साल 2004 में कुछ ऐसे लोगों पर शोध किए गए जो अनिद्रा जैसी बीमारियों से ग्रसित थे उनको प्रतिदिन सोने से पहले योगाभ्यास करवाया गया कुछ ही दिनों में जो परिणाम सामने आए वह काफी सकारात्मक थे! जो लोग पहले अनिद्रा जैसी बीमारियों की शिकायत करते थे! अब वह आराम से सो सकते थे और गहरी नींद का आनंद ले सकते थे|

9. कमर व जोड़ों के दर्द में आराम | Benefit of Yoga in Hindi:

भारतीय लोगों की जीवनशैली को देखते हुए कमर दर्द व जोड़ों का दर्द होना आम बात है| लेकिन इस दर्द को नियमित योगाभ्यास द्वारा कम किया जा सकता है! पुराने शोधों में यह पाया गया है कि योग के दौरान जमीन पर बिछी हुई चटाई पर लेटने और लेटते हुए  योग क्रियाएं करने से कमर दर्द काफी हद तक कम किया जा सकता है|

यह सब तो हो गए योग से होने वाले प्रमुख  फायदे जिनको हम विस्तार से बता चुके हैं! वह कहते हैं ना कि हर चीज का एक दूसरा पहलू भी होता है योगाभ्यास के साथ भी बिल्कुल ऐसा ही है आप यह बिल्कुल भी नहीं कह सकते कि योग के सिर्फ फायदे ही फायदे हैं बड़े-बड़े डॉक्टरों और योग गुरुओं द्वारा किए गए शोधों में योग से होने वाले नुकसान के बारे में पता चला है! आइए विस्तार से जानते हैं

योग से होने वाले दुष्प्रभाव | Disadvantage of Yoga in Hindi:

1. मांसपेशियों का फटना | Disadvantage of Yoga in Hindi:

यह देखा गया है कि  पिछले कुछ सालों में योग करने वाले स्त्री व पुरुषों में मांसपेशियों के खिंचाव की समस्या  लगातार बढ़ती जा रही है| अस्पतालों में ऐसे केस पहले से कई ज्यादा आने लगे हैं! योग के कारण मांसपेशियों का फटना आम बात है! लेकिन कभी-कभी यह विकराल रूप धारण कर सकती है इसका सबसे ज्यादा असर गर्दन, कंधे, पेट व घुटनों में देखने को मिलता है|

2. थकावट होना | Disadvantage of Yoga in Hindi:

क्या आपको लगता है की योगा करने के बाद आपको किसी एनर्जी ड्रिंक पीने या कुछ देर सोने की इच्छा करती है| अगर ऐसा है तो आप योगा के लिए कुछ ज्यादा ही एनर्जी का इस्तेमाल कर रहे हैं| कभी-कभी जरूरत से ज्यादा योगा करने से शरीर बहुत ज्यादा गर्म हो जाता है जो आपके शरीर के इलेक्ट्रोलाइट और सोडियम को अलग कर देता है जिसके फलस्वरुप थकावट महसूस होने लगती है|

3. प्रतिस्पर्धा | Disadvantage of Yoga in Hindi:

वर्तमान समय में  लोगों द्वारा योग  कई कारणों से किया जाता है! कोई सिक्स पैक ऐब बनाना चाहता है तो कोई आत्मिक सुख के लिए योगा करता है और बहुत से लोग केवल स्वस्थ रहने के लिए ही नियमित रूप से योगाभ्यास करते हैं! लेकिन योगा क्लासेज में लोगों के बीच एक दूसरे के प्रति प्रतिस्पर्धा बढ़ने जैसे विकार उत्पन्न हो रहे हैं वह दूसरे से ज्यादा स्वस्थ व सुंदर शरीर पाने की लालसा में अधिक मात्रा में योगाभ्यास कर अपने शरीर को नुकसान पहुंचा रहे हैं!

4. शारीरिक ठहराव | Disadvantage of Yoga in Hindi:

अगर आप वीडियो देखकर योगाभ्यास करते हैं तो ऐसा करना आपके  शरीर का विकास रोक सकता है! जी हां दरअसल होता यह है कि जब हम शुरुआत में योग करना शुरू करते हैं तो सिर्फ 10 से 12 योग  क्रियाएं ही सीख पाते हैं और प्रतिदिन सिर्फ उन्ही को बार-बार दोहराते हैं इसके फलस्वरुप पूर्ण रूप से शारीरिक व्यायाम नहीं हो पाता और एक ही क्रिया को बार बार दोहराने से आपके शरीर के कुछ हिस्से तो कठोर हो जाते हैं बाकी अन्य हिस्से दूसरे हिस्सों के स्तर तक नहीं पहुंच पाते हैं|

5. शारीरिक शोषण | Disadvantage of Yoga in Hindi:

पिछले कुछ वर्षों में योग के बहाने शारीरिक शोषण करने जैसे  कई सारे मामले सामने आए हैं|  विदेशों में योग के कई सारे रूप प्रचलित है और इन सब में सबसे मुख्य हैं “हॉट योगा”|  ऐसी योगा क्लासेज में योग सिखाने वाले गुरुओं पर यौन शोषण के केस चल रहे हैं तो अगर आप ऐसी क्लासेस से जुड़े हुए हैं तो यह आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है|

इस पूरे आर्टिकल में हमने आपको योग से होने वाले बहुमूल्य लाभ साथ ही साथ इसके दुष्प्रभाव के बारे में भी बताया है| अगर दुष्प्रभाव की बात की जाए तो योग से होने वाले फायदों के मुकाबले यह कुछ भी नहीं है! योग हमारी संस्कृति की एक अनमोल देन है जो कई सालों से पीढ़ी दर पीढ़ी चलती आ रही है!

अगर आप सिर्फ योग के फायदे ही लेना चाहते हैं और इससे होने वाले नुकसान से बचना चाहते हैं तो जिंदगी में योग शुरू करने से पहले योग की सभी क्रियाएं व मुद्राएं अच्छी तरह से सीख लें! यह क्रियाएं इंटरनेट की मदद से  या नजदीकी योगा क्लासेज से सीखी जा सकती है!

एक बार अच्छी तरह से देखने के बाद आप घर पर आसानी से निरंतर अभ्यास कर सकते हैं! मांसपेशियों के खिंचाव और थकान से बचने के लिए जरूरत के मुताबिक ही योगा करें! अपने शरीर की सीमाओं को समझें और शक्ति के अनुसार ही योग क्रियाएं निर्धारित करें|

You may also like...

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *