आप लड़की को डेट कर रहे है या औरत को | कैसे पता लगाएं? Dating a Girl or Women?

Are you dating a Girl or Women? what are differences between Girl and Women? What are the signs that you’re dating a Girl not Women?

किसी भी रिलेशनशिप का अच्छा होना इस बात पर निर्भर करता है कि आपका पार्टनर कैसा है| आप दोनों की सोच और एक दूसरे के प्रति बर्ताव ही आपके रिलेशनशिप का आने वाला भविष्य तय करता है| कभी कभी रिलेशन के टूटने के पीछे सबसे बड़ी वजह यह होती है कि आप अपने साथी को समझने में गलती कर देते हैं कि वह लड़की है या औरत|

इस पोस्ट में लड़की और औरत से हमारा आशय उनकी उम्र व शादीशुदा होना नहीं बल्कि अपने साथी के साथ व्यवहार, समझ व परिपक्वता से है|

Dating a Girl or Women

एक लड़की स्वयं को राजकुमारी की तरह समझती है वह कम समझदार व अल्प परिपक्व (Immature) होती है| लड़कों के लिए लड़कियों को संभालना ज्यादा मुश्किल काम होता है| जबकि एक औरत अधिक समझदार व पूर्ण रूप से परिपक्व (Mature) होती है| उसके लिए अपने साथी की खुशी ज्यादा महत्व रखती है| कहने का मतलब यह है कि एक औरत, लड़की का ही अग्रिम रूप है जो कि अधिक आत्मनिर्भर, बुद्धिमान और जिम्मेदार होती है|

Dating a Girl or Women?

अगर आप अपने और अपने साथी के साथ लंबे समय तक रिलेशनशिप बनाए रखना चाहते हैं तो आपको यह जानना बहुत जरूरी है कि आप जिसके साथ रिलेशनशिप में हैं वह लड़की है या औरत? अगर आपने यह बात जान ली तो आपको यह अंदाजा हो जाएगा कि अपने रिलेशनशिप को और ज्यादा मजबूत करने के लिए आपको क्या करना चाहिए और क्या नहीं?

तो आइए जानते हैं वह सभी बातें और बर्ताव जो आपको लड़की और औरत में अंतर समझने में सहयोग करेंगे

1. आत्मनिर्भरता:

लड़की के मुकाबले औरत ज्यादा आत्मनिर्भर होती है फिर चाहे वह व्यवहारिक आत्मनिर्भरता हो या आर्थिक आत्मनिर्भरता| व्यवहारिक आत्मनिर्भरता की बात करें तो औरत हर छोटे कार्य के लिए अपने साथी पर निर्भर नहीं रहती है औरत अपने साथी से तभी मदद मांगती है जब वह किसी कार्य को करने में पूर्ण रूप से असमर्थ हो|

आर्थिक रूप से भी औरत ज्यादा आत्म निर्भर होती है| वह कभी भी अपने साथी पर आर्थिक दबाव नहीं डालती है जैसे कि अगर कभी रेस्टोरेंट में बिल देने की बात आती है तो औरत बिल चुकाने की पहल करती है जब की लड़की ऐसा नहीं करती|

2. बातें करना | Dating a Girl or Women:

औरत के मुकाबले लड़की अधिक बातें करती हैं वह अपने साथी को बोलने के कम ही मौके देती है जबकी औरत बोलने की बजाय सुनना ज्यादा पसंद करती है खुद के मुकाबले वह अपने साथी के बोलने को ज्यादा तवज्जो देती है|

3. गुस्सा और समझदारी:

औरत के मुकाबले  लड़की अधिक गुस्सैल प्रवत्ति की होती है छोटी-छोटी बातों पर रूठना, चिल्लाना, रोना, इमोशनली ब्लैकमेल करना, बात का बतंगड़ बनाना और रिश्ते को लेकर हर वक्त असुरक्षित महसूस करना लड़की का स्वभाव होता है| जब की औरत इन सब बातों में समझदारी से काम लेती है वह स्थिति को समझती है और उसी के अनुरूप निर्णय लेती है|

4. प्रतिस्पर्धा | Dating a Girl or Women:

सामान्यतः यह देखने को मिलता है कि एक लड़की दूसरी लड़की से किसी न किसी बात को लेकर कंपटीशन करती रहती है वह हमेशा दूसरी लड़की को नीचा दिखाने की कोशिश में लगी रहती है| एक लड़की का दूसरी लड़की के व्यवहार, रहन-सहन और जीवन शैली पर बहुत प्रभाव पड़ता है  हर चीज में वह एक दूसरे से आगे निकलना चाहती है|

जबकी औरत इस तरह की प्रतिस्पर्धा को नकारती है एक औरत यह मानती है कि अन्य औरत को साथ लेकर चलने से खुद में अधिक सुधार होने की संभावनाएं है| इस मामले में औरत ज्यादा आत्मविश्वास वाली होती है|

5. साथी से शिकायतें:

औरत के मुकाबले लड़की अपने साथी मित्र से ज्यादा शिकायतें करती है| वह अपने साथी मित्र की छोटी से छोटी गलती को गिनाने से बिल्कुल भी नहीं चूकती| वह हमेशा अपने साथी मित्र को यह एहसास दिलाती रहती है कि गलती उसी की है| जबकि औरत स्वयं की गलती स्वीकारती है और अपने साथ ही मित्र की छोटी-छोटी गलतियों को दरकिनार करती है|

6. सोशल मीडिया से जुड़ाव:

सोशल मीडिया की बात करें तो औरत के मुकाबले लड़की इसे ज्यादा महत्व देती है| लड़की अपनी जिंदगी के पल, छोटी-बड़ी खुशियां, गम, उपलब्धियां और ढेर सारी सेल्फीयां सोशल मीडिया पर शेयर करने से बिल्कुल भी नहीं हिचकिचाती| वह हमेशा फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप पर एक्टिव रहती है|

जबकि औरत इन सब की परवाह नहीं करती वह काल्पनिक जीवन जीने से ज्यादा वास्तविक जीवन को अधिक महत्व देती है| वह सोशल मीडिया तभी इस्तेमाल करती है जब उसकी जरूरत हो|

7. अपने लिए चाह:

लड़की यह विश्वास रखती है कि वह राजकुमारी है इसलिए वह दूसरों से यह अपेक्षा रखती है कि वह भी उसको राजकुमारी की तरह ही समझे| लेकिन जब उसकी इच्छानुसार उसे नहीं समझा जाता तो वह इसे खुद का अपमान समझती है| जबकि एक औरत दूसरे की खुशी में खुश रहती है इसीलिए वह सिर्फ खुद पर ही ध्यान ना देकर दूसरे लोगों को भी तवज्जो देती है|

8. भविष्य के लिए योजना:

लड़की इस बारे में बिल्कुल नहीं सोचती कि इस रिलेशनशिप को भविष्य में कहां लेकर जाना है वह सिर्फ आज में  जीती हैं| उसमें बचपना अधिक होता है इसलिए वह हर बात को सिर्फ मजाक के रूप में लेती है जबकि औरत ऐसा नहीं  करती|  रिलेशनशिप शुरू होते ही औरत भविष्य के बारे में सोचना शुरु कर देती है और अपने साथी को भी इस बारे में अवगत करती रहती है|

9. लड़कों से दोस्ती | Dating a Girl or Women:

जब आप रिलेशनशिप में हो तो अपने साथी के अलावा अन्य के साथ दोस्ती से अधिक व्यवहार करना आपके रिलेशनशिप को खतरे में डाल सकता है| रिलेशनशिप में रहते हुए एक लड़की अन्य लड़कों के साथ दोस्ती, हंसी-मजाक और उससे ज्यादा करने में बिल्कुल भी संकोच नहीं करती| जबकी औरत इस तरह के खतरे से दूर ही रहती है वह सिर्फ अपने साथी मित्र के साथ ही घुलना-मिलना पसंद करती है|

10. अपने साथी से अपेक्षा:

लड़की अपने साथी मित्र से जरूरत से ज्यादा अपेक्षाएं रखती हैं वह अपने साथी को उसके “सपनों का राजा” बनाने की पूरी कोशिश करती है इसके लिए वह अपने साथी मित्र की शारीरिक और व्यवहारिक कमियों को दूर करने पर बल देती है| इस प्रकार लड़की के व्यवहार में अल्प परिपक्वता की झलक साफ देखने को मिलती है| जबकि औरत इन सब बातों पर ध्यान नहीं देती वह अपने साथी मित्र को उसी तरह चाहती है जैसा वह है|

11. फैशनेबल पहनावा | Dating a Girl or Women:

औरत यह बात अच्छी तरह समझती है कि सिर्फ अच्छे कपड़े पहनना या सजना-संवरना ही सुंदरता नहीं है इसलिए वह आंतरिक सुंदरता को अधिक महत्व देती है| वह इस बात की बिल्कुल भी परवाह नहीं करती कि उसने क्या पहना है और वह कैसी दिखती हैं| दूसरों के प्रति उसका मनभावक व्यवहार ही उनकी सुंदरता को बढ़ता है|

जबकी लड़की पहनावे के मामले में पूर्ण रूप से अपडेट रहती है वह हमेशा इस बात पर नजर रखती है की वर्तमान में क्या चीज ज्यादा प्रचलन में है|

12. रिलेशनशिप का महत्व:

क्योंकि लड़की में बचपना अधिक होता है इसलिए रिलेशनशिप को वह गंभीरता से नहीं लेती है| वह सोचती है रिलेशनशिप सिर्फ एक खेल है जो सिर्फ कुछ समय के लिए खेला जाता है इस से ज्यादा कुछ नहीं| जबकि औरत इसे गंभीरता से लेती हैं वह जानती है रिलेशनशिप सिर्फ दो लोगों को ही नहीं जोड़ता बल्कि उनकी भावनाओं और दोनों के लिए भविष्य की संभावनाओं को भी जोड़ता है|

Dating a Girl or Women:

उम्मीद है इन सब बातों को जानने के बाद  आपको लड़की और औरत में फर्क समझ में आ गया होगा|  रिलेशनशिप के लिए आज के दौर में लड़की का मिलना आसान है जब की औरत का मिलना बहुत मुश्किल| तो अगर आप या आपका दोस्त किसी लड़की के साथ रिलेशनशिप में है तो उसके साथ यह आर्टिकल जरूर शेयर करें|

You may also like...

1 Response

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *